class="post-template-default single single-post postid-172 single-format-standard wp-custom-logo wp-embed-responsive right-sidebar nav-above-header separate-containers nav-aligned-right header-aligned-left dropdown-click dropdown-click-menu-item" itemtype="https://schema.org/Blog" itemscope>

bank nifty trading in 2023 will now be easy(2023 में बैंक निफ्टी ट्रेडिंग अब होगी आसान)

bank nifty भारतीय शेयर बाजार का सबसे अस्थिर खंड है, bank nifty ऊपर/नीचे इसके घटकों के साथ करना है, bank nifty के घटक मुख्य रूप से चार हैं, जो बैंक निफ्टी को ऊपर/नीचे बनाता है,

  एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई, एक्सिस बैंक और bank nifty सभी ऊपर या नीचे से ऊपर/नीचे हैं। bank nifty  में ट्रेड करने के लिए हमें अपनी पूंजी को पांच हिस्सों में बांट लेना चाहिए, ताकि हम नुकसान के साथ बाजार से बाहर न निकल जाएं। या बाजार का सर्वेक्षण

bank nifty
bank nifty

  ( bank nifty is the most volatile segment of the Indian stock market, bank nifty‘s up/down has to do with its components, bank nifty‘s components mainly four, which make bank nifty up/down,

            HDFC Bank, ICICI Bank, SBI, Axis Bank, and bank nifty are up/down from all up or down. To trade in bank nifty, we should divide our capital into five parts, so that we do not exit the market with losses. or surveying the market)         


 * नुकसान क्यों होता है:(Why do  the loss )


   नुकसान:> bank nifty में नुकसान का सबसे बड़ा कारण लालच या ओवरट्रेडिंग है; नुकसान से बचने के लिए हमें इसे रोकना होगा।

                कोई भी व्यापार करने से पहले हमें यह देखना चाहिए कि bank nifty चार्ट या bank nifty  घटक बन रहा है, हमें कभी भी अपने दिमाग से व्यापार नहीं करना चाहिए।

                      ट्रेड करने के लिए हमें अपना सेटअप बनाना ही होगा, वही सेटअप सेट अप करना होगा या खुद से बनाना होगा, चाहे हमारा स्टॉप लूज फीट हो या स्टॉप लॉस से ट्रेड करेगा, जब हमारा स्टॉप लॉस खत्म हो जाता है तो हमें अपना कट लगाना होता है स्थिति या अगले दिन के लिए इंतजार करेंगे या व्यापार नहीं,

    ( Loss:> The biggest reason for loss in the bank nifty is greed or overtrading; we have to stop it to avoid loss:>

               Before doing any trade, we must see whether a bank nifty chart or bank nifty component is being done, we should never trade with our mind.                                      To trade, we must make our setup, we have to set up the same setup or make it by ourselves, whether our stop is loose feet or we will trade with stop loss, when our stop loss is gone, then we have to cut our position or will wait for next day or not trading,)


  * प्रॉफिट क्यों होता है:(Why do  the profit )


   ( प्रॉफिट:> bank nifty जब हम प्रॉफिट में होते हैं तो हमारा स्टॉप लॉस प्रॉफिट होगा, या हमें अपने सेटअप से डबल प्रॉफिट होगा। हम अपने व्यापार को निष्पादित करने के लिए एक सेटअप तैयार करेंगे जो हमें सूट करे।   या अगर हमारा स्टॉप लॉस ठीक से फिट हो गया है तो हम जो भी ट्रेड करते हैं, हम पूरे सप्ताह/महीने में लाभ में देखेंगे।)

 Profit:> bank nifty When we are in profit, our stop loss will be profit, or we will double profit from our setup. We will create a setup to execute our trade that suits us.  Or if our stop loss is properly fitted, then whatever trades we make, we will see the whole week/month in profit.)


bank nifty में ट्रेड करने के लिए बहुत सारे सेगमेंट है,(There are various segments to trade in bank nifty,)


*हम लोग जिस सेगमेंट ज्यादा काम करते हैं उसके बारे में जानेंगे।(We will know about the segment in which people work more.):>

 (1)bank nifty इंडेक्स:>जिसमे एक लॉट साइज खरीदने पर फंड 1,80,000 यूज होता है। bank nifty जितना पॉइंट ऊपर/नीचे होगा हमारा नुकसान और मुनाफा उसी हिसाब से ऊपर/नीचे होगा।(bank nifty Index:> In which buying a lot size the fund is used 1,80,000. Our loss and profit will be up/down according to the number of points up/down in bank nifty )
bank nifty
bank nifty

(2)स्ट्राइक प्राइस तीन तरह के होते हैं(There are three types of strike prices):>

(ए) आईटीएम:> bank nifty जितना भाव पर चल रहा है, उसके अंदर का स्ट्राइक प्राइस आईटीएम (इन द मनी) कहते हैं।( ITM: > The strike price at which bank nifty is trading is called ITM (in the money).

bank nifty
bank nifty

(बी)एटीएम:>bank niftyजितना भाव पर चल रहा है, उसी स्ट्राइक प्राइस को एटीएम (एट द मनी) कहते हैं।((ATM:> The strike price at which bank nifty is running is called ATM (At the Money).

bank nifty
bank nifty

 

(c) OTM:> bank nifty जितना भाव पर चल रहा है, उसके ऊपर का स्ट्राइक प्राइस OTM (आउट ऑफ द मनी) कहते हैं।(( OTM:> The strike price above the rate at which bank nifty is trading is called OTM (Out of the Money) 

bank nifty
bank nifty

.*चेतावनी:>bank nifty में ट्रेड करना बहुत ही जोखिम भरा है। बिना जानकारी के ट्रेड ना करें और इससे पहले सीखें और जो भी फंड इस्तेमाल करें वो अपने सेविंग का 10% हिस्सा इस्तेमाल करें,(TRADING IN bank nifty IS VERY RISK. Do not trade without knowledge and learn before that and whatever fund you use, use 10% of your savings.)


*नोट:>बैंक निफ्टी में ट्रेड कैसे करें नेक्स्ट भाग में बताया जाएगा प्रॉपर सेटअप के साथ

 How to trade in bank nifty will be explained in the next part with proper setup

 


Unveiling bank nifty future: A Gateway to the Banking Sector’s Potential(बैंक निफ्टी)2023


http://ivesting.com

 

 

 

 

Leave a comment